ICC ने सौंपी पाकिस्तान को 2025 Champions ट्रॉफी की मेजबानी, भारत के खेलने का फैसला केंद्र सरकार करेगी 

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि सुरक्षा कारणों के चलते कई देशो ने पाकिस्तान का दौरा रद्द कर चुके है। और सभी जानते है की वहां खेलते समय कई खिलाड़ियों पर हमला हो चूका है। अब फैसला केंद्र सरकार करेगी की इंडिया पाकिस्तान में Champions ट्रॉफी खेलेंगी या नहीं।  

दोस्तों अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने मंगलवार को अगले आठ सालो के लिए होने वाले क्रिकेट टूर्नामेंट की घोषणा कर दी है।  ICC 2024 से लेकर 2031 के लिए हर साल कोई न कोई टूर्नामेंट आयोजित करवाता रहेगा।  बोर्ड ने आठ सालों के कार्यक्रम में 2025 चैंपियंस ट्रॉफी का कार्यक्रम भी जारी कर दिया है।  ICC Champions Trophy 2025 की मेजबानी पाकिस्तान को मिली है। जहाँ कई देशो की टीम सुरक्षा कारणों का हवाला देकर अपना दौरा रद्द कर चुकी है।  ऐसे में सवाल है कि किया भारतीय टीम Champions ट्रॉफी के लिए पाकिस्तान जाएगी? 

पाकिस्तान से छीनी जा सकती है 2025 की चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी,

इस सवाल का जवाब देते हुए केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इसका फैसला भारत सरकार और गृह मंत्रालय द्वारा किया जायेगा। उसके बाद ही निश्चय होगा की भारतीय टीम को पाकिस्तान जाना चाहिए या नहीं।  

2025 Champions ट्रॉफी की मेजबानी पाकिस्तान को सौपे जाने पर अनुराग ठाकुर से मिडिया से बात करते हुए कहा कि – 

सामान्य आने पर केंद्र सरकार और गृह मंत्रालय मिलकर इसका फैसला करेंगे।  अंतर्राष्ट्रीय चैंपियनशिप के दौरान सभी पहलुओं पर ध्यान दिया जाता रहा है। 

उन्होंने आगे कहा किअब तक कई देश सुरक्षा कारणों के चलते पाकिस्तान में जाकर खेलने के लिए मना कर चुके है।  जैसा कि आप सभी जानते है कि वहां खेलते समय कई खिलाड़ियों पर हमला हो चुका है।

यह बड़ी समस्या है, और हमें इससे निपटकर दिखाना है। इसको होने में अभी काफी समय जल्दबाजी में इसपर कोई फैसला नहीं लिया जाएगा।”

पाकिस्तान 2017 में आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी का अवार्ड जीत चूका है। और इस बार पाकिस्तान टीम अपने घरेलू मैदान पर इस ट्रॉफी को बचाने की पूरी कोशिश करने वाली है। इस टूर्नामेंट में आठ टीमें रहेंगी और 15 मैच खेले जाएंगे।

भारत ने टी20 वर्ल्डकप 2021 का आयोजन यूएई में करवाया था और अब पाकिस्तान को भी चैंपियंस ट्रॉफी की मेजबानी UAE में करवानी पड़ सकती है। हालांकि बीसीसीआई ने कोरोना के चलते भारत की बजाय यूएई में मैच करवाए थे लेकिन कई टीमें सुरक्षा कारणों से पाकिस्तान में खेलने से मना करेंगी इस बात की उम्मीद है।

हाल ही में न्यूजीलैंड और इंग्लैंड सुरक्षा कारणों का का हवाला देकर पाकिस्तान में सीरीज खेलने से मना कर चुकी है। ऐसे में पाकिस्तान को चैंपियंस ट्रॉफी का आयोजन यूएई में करवाना पड़ सकता है। पाकिस्तान और भारत मिलकर 1987 वर्ल्डकप की मेजबानी कर चुके हैं। इस टूर्नामेंट में कुल 27 मैच हुए थे और 17 मैच भारत और 10 मैच पाकिस्तान में करवाए गए थे।

वहीं 1996 वर्ल्डकप की बात करें तो कुल 37 मैच खेले गए थे। इनमें से 17 भारत, 16 पाकिस्तान और चार मैच श्रीलंका में हुए थे। 2009 में श्रीलंका टीम पर हुए हमले के बाद छह टीमें पाकिस्तान का दौरा कर चुकी हैं।

2015 में सबसे पहले जिम्बाब्वे टीम पाकिस्तान आयी थी और चार टी20 मैच खेली थी। उसके बाद 2017 में श्रीलंका, 2018 में वेस्टइंडीज, 2020 में बांग्लादेश और 2021 में दक्षिण अफ्रीका जैसी टीमें भी पाकिस्तान का दौरा कर चुकी हैं।

हालांकि इसके बाद न्यूजीलैंड पाकिस्तान जाकर वहां मैच खेलने से मना कर चुकी थी और बाद में इंग्लैंड ने भी पाकिस्तान का दौरा करने से मना कर दिया था।

November 18, 2021

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *